कानपुर संवददाता [शोभित पाण्डेय] प्रदेश सरकार ने जहां पान मसाला, तंबाकू पर लगे प्रतिबंध को हटाकर कोरोना महामारी को अनियंत्रित हो जाने के लिए एक तरह से छोड़ सा दिया था ,वहीं केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्थिति की गंभीरता को ध्यान में रखकर पुनः यूपी समेत 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में तंबाकू ,पान मसाला, धूम्रपान पर रोक लगा दी है इस कार्य से कोरोना योद्धाओं में एक नई क्रांतिमय ऊर्जा का संचार हुआ है ,उपरोक्त बात सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में मानवाधिकार महासंघ, ओम जन सेवा संस्थान ,एंटी करप्शन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के सहयोग से कोरोना मिटाओ नशा हटाओ अभियान के तहत ऑनलाइन स्वास्थ्य सभा में अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख योग गुरु ज्योति बाबा ने कही । ज्योति बाबा ने आगे कहा कि जहां एक ओर लोगों में स्वत: फिजिकल डिस्टेंसिंग की समझ बढ़ रही है और लॉक डाउन के नियमों का ज्यादा से ज्यादा पालन कर रहे हैं उस पर कोरोनावायरस की चेन तोड़ने में जुटे कोरोना योद्धाओं के सम्मुख केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की पान मसाला ,तंबाकू पर पूरी तरह से रोक से जंग जीतने का जज्बा कई गुना बढ़ गया है । दुनिया की सभी मेडिकल रिपोर्ट्स ,रिसर्च कह रही हैं कि कोरोना जंग में सामूहिक प्रयास तब सफल होंगे ,जब तंबाकू ,धूम्रपान ,पान मसाला पर पूरी तरह रोक लगा दी जाए और उस पर कड़ाई से अनुपालन भी सुनिश्चित किया जाए । व्यापारी नेता आदित्य पोद्दार ,आयुर्वेद विशेषज्ञ अरुण शर्मा और शिक्षक दिलीप कुमार सैनी, संविधान रक्षक दल के राजशेखर राजेंद्र ने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने जो पान मसाला ,तंबाकू और धूम्रपान पर यूपी ही नहीं देश के 28 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में खाने व पीने की रोक लगाई है उससे देश के स्वास्थ्य प्रेमियों में खुशियों की लहर दौड़ गई है । अन्य प्रमुख ऑनलाइन स्वास्थ्य सभा सहयोगी रामसुख यादव ,राकेश चौरसिया ,आलोक मेहरोत्रा ,दिलीप कुमार मिश्रा इत्यादि थे ।