New Delhi, Aug 23 (ANI): Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal during an interaction with traders in New Delhi on Sunday. (ANI Photo)

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने जानकारी दी है कि राज्य सरकार ने 1.34 करोड़ वैक्सीन का ऑर्डर दिया है, 1 मई से दिल्ली में वैक्सीनेशन का काम बड़े स्तर पर किया जाएगा.

वैक्सीन के अलग-अलग दामो पर उठे सवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने वैक्सीन निर्माताओं से अपील की है कि केंद्र, राज्य और प्राइवेट अस्पतालों को एक ही दाम में वैक्सीन मिलनी चाहिए. वैक्सीन निर्माताओं का दावा है कि 150 रुपये की वैक्सीन में भी फायदा हो रहा है, तो फिर अलग-अलग दाम क्यों रखे जा रहे हैं.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपील की है कि पूरी जिंदगी प्रॉफिट कमाने के लिए पड़ी है, ऐसे में राज्य सरकारों को भी कम दाम पर वैक्सीन मिलनी चाहिए. केंद्र सरकार को इसमें दखल देना चाहिए.

एक मई से शुरू हो रहा वैक्सीनेशन का नया चरण

आपको बता दें कि 1 मई से देश में वैक्सीनेशन का नया चरण शुरू हो रहा है. इस दौरान 18 साल से अधिक उम्र वाले सभी लोगों को वैक्सीन लगाने का सिलसिला शुरू होगा. तीसरे चरण में राज्य सरकारें खुद वैक्सीन निर्माताओं से वैक्सीन ले सकते हैं.आपको बता दें कि 1 मई से देश में वैक्सीनेशन का नया चरण शुरू हो रहा है. इस दौरान 18 साल से अधिक उम्र वाले सभी लोगों को वैक्सीन लगाने का सिलसिला शुरू होगा. तीसरे चरण में राज्य सरकारें खुद वैक्सीन निर्माताओं से वैक्सीन ले सकते हैं.

वैक्सीनेशन के तीसरे चरण से पहले सीरम इंस्टीट्यूट और भारत बायोटेक ने अपनी वैक्सीन के दाम का ऐलान कर दिया है. कोविशील्ड राज्य सरकारों को 400, प्राइवेट अस्पतालों को 600 रुपये में मिलेगी. जबकि कोवैक्सीन राज्य सरकारों को 600, प्राइवेट अस्पतालों को 1200 रुपये में मिलेगी. हालांकि, दोनों वैक्सीन को केंद्र सरकार को 150 रुपये में दिया जाएगा. वैक्सीन के अलग-अलग दाम को लेकर कई विपक्षी पार्टियों ने केंद्र पर निशाना साधा है.