शहर के सुनील चतुर्वेदी निर्णायक व कोच उच्चतम श्रेणी से एक कदम दूर, किये गए सम्मानित।

share on:

कानपुर/ दिन प्रतिदिन सफलता की ओर दृढ़ निश्चय व कठोर परिश्रम से सदैव खिलाड़ियों के हितार्थ गंभीर रहते हुए आगे बढ़ते हुए शहर के ग्रेपलिंग ( मल्लयुद्ध ) सचिव सुनील चतुर्वेदी अनेक उपलब्धियां हासिल कर रहे हैं। उनकी उपलब्धियों में एक कड़ी और जुड़ गई। मौका था राष्ट्रीय सीनियर ग्रेपलिंग प्रतियोगिता जोकि ऋषिकेश में आयोजित की गई थी। प्रतियोगिता उपरांत बेहतरीन निर्णायकों का चयन भी करना था जिसके लिए अंतरराष्ट्रीय निर्णायक मुल्तान सिंह राणा राष्ट्रीय स्तर के बेहतरीन निर्णायकों का चयन कर रहे थे। जिसके लिए कठोर प्रक्रिया से सभी निर्णायकों को गुजरना था। सभी प्रक्रियाओं को पास कर शहर के सुनील चतुर्वेदी उच्च श्रेणी से एक कदम की दूरी पर है। सुनील ने इसका श्रेय लक्ष्मण एवार्डी सचिव उत्तर प्रदेश रविकांत मिश्रा को दिया जिन्होंने निर्णयक परीक्षा हेतु प्रेरित किया। फेडरेशन के महासचिव शिव कुमार पांचाल ने प्रमाण पत्र देकर शुभकामनाये दी। इस मौक़े पर निदेशक बलविंदर सिंह,अध्यक्ष जय प्रकाश, कोषाध्यक्ष विवेक गोयल,अंतराष्ट्रीय रेफ़री मुल्तान सिंह राणा ने शुभकामनाये दी।


*बेहतरीन कोच व निष्पक्ष निर्णय ही खिलाड़ी को पहुँचाता है बुलंदियों पर*

सुनील ने बताया कोच की प्रशिक्षण में और निर्णायक की प्रतियोगिता के दौरान अहम भूमिका होती है। एक अच्छा कोच जहां बेहतरीन निर्देशन व कुशल अभ्यास से खिलाड़ी को सर्वोच्च शिखर पर पहुंचा सकता है वहीं कुशल व निष्पक्ष निर्णायक भी खिलाड़ी के लिए महत्वपूर्ण होता है। एक गलत निर्णय देने मात्र से ही खिलाड़ी का पूरा प्रयास बेकार होता है। निर्णायक कैम्प की सुनील ने जमकर सराहना की साथ ही बताया कि फेडरेशन के इस प्रयास से अच्छे निर्णायक व कोच निकलकर आएंगे। जो खिलाड़ियों को बेहतरीन अभ्यास व निष्पक्ष निर्णय देकर ग्रेपलिंग खेल व खिलाड़ियों को बेहतरीन आयाम प्रदान करेंगे। जिससे खिलाड़ियों का विश्वाश खेल पर बना रहेगा। ग्रेपलिंग कानपुर अध्यक्ष डॉ आलोक श्रीवास्तव ने फोन पर बात कर सुनील चतुर्वेदी को शुभकामनाये दी।

share on: